अंतरिक्ष-अनुसंधान : मानवीय मेधा की रोमांचक उड़ान

80.00

अंतरिक्ष-अनुसंधान –  मानवीय मेधा की रोमांचक उड़ान

पन्ने – 139

लेखक – प्रदीप कुमार

 

Description

दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र रह चुके प्रदीप कुमार हिंदी के जाने-माने विज्ञान लेखक हैं. कम उम्र और बहुत कम समय में उन्होंने विज्ञान लेखन के क्षेत्र में जो ख्याति अर्जित की है, वह विलक्षण है. उनका अध्ययन बहुत बड़ा और दृष्टि व्यापक है. विज्ञान के साथ-साथ धर्म-दर्शन का अध्ययन उनके लेखन को गहराई प्रदान करता है. इसकी सबसे बड़ी खूबी है, उनकी सहज-सरल बोधगम्य शैली. जो हिंदी में बहुत कम लेखकों के पास है. उनके लेख हिंदी के सभी प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं की शोभा बढ़ाते रहे हैं. ‘अंततः अंतरिक्ष’ शीर्षक से एक प्रस्तुत भी प्रकाशित हो चुकी है. प्रस्तुत पुस्तक ब्रह्मांड के रहस्यों की पड़ताल को समर्पित है, जिसपर हिंदी में बहुत कम पुस्तकें हैं. यह न केवल सामान्य पाठकों, अपितु विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के लिए भी समान रूप से जरूरी है.

Additional information

Authors

प्रदीप कुमार, Pradeep Kumar

Format

Digital

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “अंतरिक्ष-अनुसंधान : मानवीय मेधा की रोमांचक उड़ान”

Your email address will not be published.